भगवान् बुद्ध के कुछ अनमोल वचन …SBMT team


 

भगवान् बुद्ध के कुछ अनमोल वचन

एक सुराही बूंद-बूंद से भरता है |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

सभी गलत कार्य मन से ही उपजाते हैं | अगर मन परिवर्तित हो जाय तो क्या गलत कार्य रह सकता है |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

एक निष्ठाहीन और बुरे दोस्त से जानवरों की अपेक्षा ज्यादा भयभीत होना चाहिए ; क्यूंकि एक जंगली जानवर सिर्फ आपके शरीर को घाव दे सकता है, लेकिन एक बुरा दोस्त आपके दिमाग में घाव कर जाएगा.
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

एक हजार खोखले शब्दों से एक शब्द बेहतर है जो शांति लता है |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

अराजकता सभी जटिल बातों में निहित है| परिश्रम के साथ प्रयास करते रहो |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

अतीत पर ध्यान केन्द्रित मत करो, भविष्य का सपना भी मत देखो, वर्तमान क्षण पर ध्यान केंद्रित करो |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

आप को जो भी मिला है उसका अधिक मूल्याङ्कन न करें और न ही दूसरों से ईर्ष्या करें. वे लोग जो दूसरों से ईर्ष्या करते हैं, उन्हें मन को शांति कभी प्राप्त नहीं होती |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

चतुराई से जीने वाले लोगों को मौत से भी डरने की जरुरत नहीं है |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

घृणा, घृणा करने से कम नहीं होती, बल्कि प्रेम से घटती है, यही शाश्वत नियम है |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

वह व्यक्ति जो 50 लोगों को प्यार करता है, 50 दुखों से घिरा होता है, जो किसी से भी प्यार नहीं करता है उसे कोई संकट नहीं है |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

स्वास्थ्य सबसे महान उपहार है, संतोष सबसे बड़ा धन तथा विश्वसनीयता सबसे अच्छा संबंध है|
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

क्रोधित रहना, किसी और पर फेंकने के इरादे से एक गर्म कोयला अपने हाथ में रखने की तरह है, जो तुम्ही को जलती है |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

आप चाहे कितने भी पवित्र शब्दों को पढ़ या बोल लें, लेकिन जब तक उनपर अमल नहीं करते उसका कोई फायदा नहीं है |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

मनुष्य का दिमाग ही सब कुछ है, जो वह सोचता है वही वह बनता है |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

जीभ एक तेज चाकू की तरह बिना खून निकाले ही मार देता है |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

सत्य के रस्ते पर कोई दो ही गलतियाँ कर सकता है, या तो वह पूरा सफ़र तय नहीं करता या सफ़र की शुरुआत ही नहीं करता |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

हजारों दियो को एक ही दिए से, बिना उसके प्रकाश को कम किये जलाया जा सकता है | ख़ुशी बांटने से ख़ुशी कभी कम नहीं होती |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

तीन चीजों को लम्बी अवधि तक छुपाया नहीं जा सकता, सूर्य, चन्द्रमा और सत्य |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

शारीर को स्वस्थ रखना हमारा कर्त्तव्य है, नहीं तो हम अपने दिमाग को मजबूत अवं स्वच्छ नहीं रख पाएंगे |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

हम आपने विचारों से ही अच्छी तरह ढलते हैं; हम वही बनते हैं जो हम सोचते हैं| जब मन पवित्र होता है तो ख़ुशी परछाई की तरह हमेशा हमारे साथ चलती है |
-गौतम बुद्ध

——————————————————————————–

अपने उद्धार के लिए स्वयं कार्य करें. दूसरों पर निर्भर नहीं रहें |
-गौतम बुद्ध

4 thoughts on “भगवान् बुद्ध के कुछ अनमोल वचन …SBMT team

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s