डॉ. आंबडेकर स्टूडंट फ्रंट ऑफ इंडिया के छात्रों ने विशाल धम्म ध्वज बनाकर महाबोधी विहार बम धमाकों का विरोध प्रदर्शन किया


buddhist flag

आज दिनांक 9 जुलाई 2013 को देश की हृदयस्थली नागभूमी नागपूर शहर में महाबोधी विहार बम धमाके के विरोध को लेकर तीसरे दीन भी विरोध प्रदर्शन निषेध जारी रहा.. इस अवसर डॉ. आंबडेकर स्टूडंट फ्रंट ऑफ इंडिया के छात्रों ने विशाल धम्म ध्वज बनाकर बिहार की राज्य सरकार और केंद्र की काँग्रेस सरकार के खिलाफ तथा आतंकतवाद के खिलाफ शांती, करुणा के साथ पानी को बौछारों के बीच अपना निषेध/विरोध व्यक्त किया.. नागपूर में इस विशाल धम्मध्वज की जनमानस में चारोओर चर्चा हो रही है|

इस देश में बहुत से ऐसे नेता और राजनेतिक पार्टियाँ हैं जो भगवन बुद्धा की तस्वीर अपने झंडे और अजेंडे में छापती हैं अपने हर भाषण में भगवन बुद्धा का नाम लेते नहीं थकते| ऐसी पार्टियाँ ऐसे नेता कहाँ हैं कहीं से कोई आवाज़ नहीं आ रही| इनमे से एक भी बौध गया नहीं गया घूमने|क्या यही प्रबुद्ध भारत की और ले जाने वाले राजनीतीज्ञ हैं , क्या ये सिर्फ वोट की खातिर ही भगवन बुद्धा का नाम लेते हैं ? आज अगर बाबा साहब जिन्दा होते तो जरूर इस दुर्घटना और षडियंत्र के विषय में बहुत कुछ कहा और किया जाता|

अरे बौद्ध  नेताओं , होने दो गया महाबोधी विहार में विरोधियों का कब्ज़ा,  पर वो बौद्ध  है तो बौद्ध श्राएन, है तो बौद्ध जनता के झंडे की अभिन्न अंग ही |वहां जाकर विरोध क्यों नहीं करते ? वहां के कब्ज़ा किया बैठे सरमायेदार से इतना डरोगे क्या?अरे कम से कम अपने घर में बैठ कर एक मीडिया वक्तव्य तो जारी कर ही सकते हो?

सारी दुनिया कह रही है की उन्नीसवी सदी लन्दन की थी बीसवी सदी अमेरिका की थी और इक्कीसवी सदी भगवन बुद्धा की होगी ”

क्या ऐसे ही इक्कीसवी सदी बुद्ध की होगी ?

भारत की प्रबुद्ध जनता के मन मस्तिष्क में ऐसे कई सवाल है|

क्या कोई जवाब है

dasfi

2 thoughts on “डॉ. आंबडेकर स्टूडंट फ्रंट ऑफ इंडिया के छात्रों ने विशाल धम्म ध्वज बनाकर महाबोधी विहार बम धमाकों का विरोध प्रदर्शन किया

  1. There should be in depth inquiry of this incident and culprits brought to book. As 15 out of 16 cameras were working normally there should be no difficulty in recognizing the culprits.

  2. 14 july 10 am Mahabodhi vihar per Hamla k virodh mei Vishav Shanti Stup nizamuddin Delhi mei bhari Sankhya Me pahuchhe

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s