गुजरात के एक लाख पिछड़े बहुजन (दलित) बौद्ध धर्म अंगीकार करेंगे


खुशखबरी!!!अब बहुजन बड़ी संख्या में अपने खुद के बौद्ध धम्म में लौट रहे हैं | इसी कड़ी में एक लाख पिछड़े बहुजन (दलित) बौद्ध धर्म अंगीकार करेंगे

अक्टूबर महीने में दशहरा के दिन जूनागढ़ में एक लाख पिछड़े बहुजन बौद्ध धर्म अंगीकार करेंगे। धर्म परिवर्तन के अवसर पर दो लाख लोगों के एकत्र होने की संभावना है।
सूत्रों के मुताबिक बोध दीक्षा महोत्सव के के अंतर्गत गुजरात के एक लाख दलित बौद्ध धर्म की दीक्षा लेंगे। जिसमें जूनागढ़ के ५० हजार परिवार और सौराष्ट्र दलित संगठन के १० हजार कार्यकर्ता अपने परिवार के साथ बौद्ध धर्म अंगीकार करेंगे। अक्टूबर महीने में दशहरा के अवसर पर जूनागढ़ में सम्राट अशोक के शीलालेख के निकट धर्म परिवर्तन कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। पत्रकार परिषद में इसकी जानकारी देते हुए संत जयदेवबापा ने कहा कि पिछड़े बहुजनों को राजनीति महत्व दिया जा रहा है, परंतु सामाजिक रूप से आज उन्हें स्वीकार नहीं किया जाता। डॉ आंबेडकर मिशन की समझ और प्रसार के चलते इन बहुजनों ने बौद्ध धर्म अंगीकार करने का फैसला किया है।बाबा साहब का प्रबुद्ध भारत का सपन जरूर साकार होगा|सब सुखी होंगे सबका मंगल होगा |

जय भीम नमो बुद्धाय

Source : दलित मत http://www.facebook.com/dalitmat?hc_location=stream

१३.१०.२०१३ को विजयादशमी के दिन जूनागढ में पुज्य देवबापाजी के मार्गदर्शन तले पूरे गुजरात से १००००० (1 lakh) लोग बौध्द धम्म की दिक्षा ग्रहन करेंगे।
आईंए आप भी इस ऐतिहासिक दीक्षा समारोह में सामिल हुईयें और बाबासाहबजी का सपना साकार कीजिऐ।

दीक्षा समारोह में जुडने के लिए निचे दिऐ हुऐ मोबाईल नंबर पर संपर्क करे।

देवेन वाणठी- 09909599600-जूनागढ
निलेश काथड-09426169888 -जूनागढ
बी. टी. मेवाडा- 0989796471 -जूनागढ
जितू मणवर- 08866606016 -जूनागढ
नरेन्द्र वेगडा- 09979641971 -जूनागढ
अमृतभाई वाळा-09567867020-जूनागढ
अमृतभाई मकवाणा- 09567886168-जूनागढ

https://m.facebook.com/photo.php
૧૩.૧૦.૨૦૧૩ ના વિજ્યા દ્શમીના દિવસે જુનાગઢ્માં પૂ.જયદેવબાપાના માર્ગદર્શન તળે ગુજરાતભરના ૧૦૦૦૦૦ (1 lakh) લોકો બૌધ્ધ દિક્ષા ગ્રહણ કરશે.
આવો આપ પણ આ ઐતિહાસિક દિક્ષા સમારોહમાં જોડાઈ ને ડો. બાબાસાહેબના સપનાને સાકાર કરો.
દિક્ષા સમારોહમાં જોડાવા નીચેના મોબાઈલ નં. નો સંપર્ક કરવો.
દેવેન વાણવી- ૦૯૯૦૯૫૭૭૬૦૦ -જુનાગઢ
નિલેશ કાથડ- ૯૪૨૬૧૬૯૮૮૮ -જુનાગઢ
બી. ટી. મેવાડા- ૦૯૮૭૯૭૬૪૭૧૧ -જુનાગઢ
જીતુ મણવર- ૦૮૮૬૬૬૦૬૦૧૬ -જુનાગઢ
નરેન્દ્ર વેગડા- ૦૯૯૭૯૬૪૧૯૭૧ -જુનાગઢ
અમૃતભાઈ વાળા- ૦૭૫૬૭૮૬૭૦૨૦ -જુનાગઢ
અમૃતભાઈ મકવાણા ૦૭૫૬૭૮૮૬૧૬૮ -જુનાગઢ —

2 thoughts on “गुजरात के एक लाख पिछड़े बहुजन (दलित) बौद्ध धर्म अंगीकार करेंगे

  1. I am a private engineer because i don’t like, any person say to me u r a in reserve category, so i don’t think for Govt, service, pl suggest me , i want to make Buddhism certificate for my kids, please suggest.

    • Hi Bharti, Buddhism dont need certificate from Buddhism, may be it is needed by INDIAN GOVERNMENT. In Buddhism you just need to PRACTICE Buddhism to develop WISDOM of yourself and your family.BUDDHISM is science to develop WISDOM. thats why first jwel is “BUDDHAM SHARNAM GACCHAMI”
      main BUDDHI(awaken mind full of wisdom) ki sharan me jata hoon .

      Please mail on jileraj@gmail.com for any more queries.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s