बुद्ध पूर्णिमा पर कविता -पंचशील के अनुगामी…लेखिका श्रीमती सपना निगम, प्रेषक- अरुण कुमार निगम


बुद्ध पूर्णिमा पर गीत -पंचशील के अनुगामी

रचना – श्रीमती सपना निगम buddha deshna

यही धर्म है मोक्ष पथगामी
मध्यम मार्ग सरल
पाँच अनुशीलन हैं इसके
मानव पालन कर.

सत्कर्मों की पूँजी बना ले 
प्रेम-भाव अविरल
कर्मों को अपना धर्म समझ ले
करना किसी से न छल.

प्राणीमात्र पर दया करना तू 
जो  हैं दीन-निर्बल
बुद्ध ने जो सन्देश दिया है
उस पर करना अमल.


राग-रंग नहीं करना तुझको
 
संयम है तेरा बल
मानव जीवन तुझे मिला है
रखना इसे निर्मल.

त्रिपिटक ग्रंथों में समाये 
जीवन सार सकल 

प्रज्ञा शील करुणा अपना ले
मोक्ष की कामना कर.


स्वर्ग-नर्क सब किसने देखा ?
 
किसने देखा कल ?
परम-धाम जाना है तुझको
बुद्ध की राह पर चल.

बुद्धं शरणम गच्छामि
 
धम्मं शरणम गच्छामि
संघम  शरणम गच्छामि
पंचशील के अनुगामी.


बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनायें

प्रेषक- अरुण कुमार निगम

3 thoughts on “बुद्ध पूर्णिमा पर कविता -पंचशील के अनुगामी…लेखिका श्रीमती सपना निगम, प्रेषक- अरुण कुमार निगम

  1. यही धम्म है निर्वान पथगामी
    मध्यम मार्ग सरल
    पाँच अनुशीलन हैं इसके
    मानव पालन कर.
    सत्कर्मों की पूँजी बना ले
    प्रेम-भाव अविरल
    कर्मों को अपना धम्म समझ ले
    करना किसी से न छल.
    प्राणीमात्र पर दया करना तू
    जो हैं दीन-निर्बल
    बुद्ध ने जो सन्देश दिया है
    उस पर करना अमल.
    राग-रंग नहीं करना तुझको
    संयम है तेरा बल
    मानव जीवन तुझे मिला है
    रखना इसे निर्मल.
    त्रिपिटक ग्रंथों में समाये
    जीवन सार सकल
    प्रज्ञा शील करुणा अपना ले
    निर्वान की कामना कर.
    स्वर्ग-नर्क सब किसने देखा ?
    किसने देखा कल ?
    परम-धाम जाना है तुझको
    बुद्ध की राह पर चल.
    बुद्धं शरणम गच्छामि
    धम्मं शरणम गच्छामि
    संघमशरणम गच्छामि
    पंचशील के अनुगामी.
    बुद्ध पूर्णिमा की मंगलकामनायें
    प्रेषक- अरुण कुमार निगम

    मैने इसे थोडा बदल कर पेस्ट किया हैं।

  2. bhut achchhi kavita hai. jai bheem nmo buddhay.dr vijay pal ,assistant professor,dyal singh college ,university of delhi,delhi

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s