बिहार के मुख्यमंत्री श्री जीतन राम मांझी जी ने कहा- अगड़ी जाति विदेशी और आर्यों के वंशज…ज़ी मीडिया ब्यूरो


jitan-ram-manjhi
ज़ी मीडिया ब्यूरो

पटना :  बिहार के मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी  ने अगड़ी जाति के लोगों को विदेशी कह डाला। बेतिया में आयोजित एक सभा को संबोधित करते हुए मांझी ने कहा कि अगड़ी जाति के लोग आर्यों की संतान हैं जो विदेश से यहां आए हैं। भाजपा ने मांझी के इस बयान को प्रदेश में जातीय संघर्ष को बढ़ावा देने वाला बताया है।

मांझी ने अपने संबोधन में कहा कि इस देश के मूल निवासी दलित और आदिवासी वर्ग के ही लोग हैं। उन्होंने इस वर्ग के लोगों को राजनीतिक स्तर पर जागरूक एवं शिक्षित होने को कहा ताकि समाज का यह पिछड़ा वर्ग बिहार में सरकार बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सके।

मांझी के इस बयान पर भाजपा के वरिष्ठ नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि उनके इस बयान से प्रदेश में जातीय संघर्ष फैलेगा। उन्होंने कहा कि यह कोई पहला मौका नहीं है जब मांझी ने बेतुका बयान दिया है, ये पहले भी ऐसे बयान देते रहे हैं ताकि सामाजिक विभाजन हो।

Source http://zeenews.india.com/hindi/india/bihar-jharkhand/bihar-cm-manjhi-dubs-upper-caste-people-as-foreigners-bjp-slams-comment/238357

मांझी जी की इस बात को बाबा साहब आंबेडकर के लेखन का निचोड़ समझ सकते हैं, सबूत के लिए बाबा साहब आंबेडकर की लिखी किताबें पढ़ें.

 

गौर से देखा जाये तो भारत एक राष्ट्र नहीं बल्कि कई राष्ट्रों का समूह है।यहाँ की हर एक जाती अपने आप में एक राष्ट्र है जो दूसरी सभी जातियों से दुश्मनी की हद तक संसाधनों पर अधिकार की लड़ाई लड़ती आ रही है। इस अराजक सामाजिक ढाचे का निर्माण कर मध्य एशियाई आर्य अल्पसंख्यक होने के बावजूद शीर्ष पर पहुँच गए और इसी “जाती” को जीवित रख कर ये मध्य एशियाई आज तक शीर्ष पर काबिज़ है। जाती का निर्माण कर इन आर्यों ने आज तक अपना अस्तित्व भारतीय समाज में बचाए रखा। अगर बिहार के CM इन्हे विदेशी कहते है तो इसके लिय ये लोग खुद ही जिम्मेदार है। इन्होने आज तक अनार्यो के साथ विदेशियों की तरह ही व्यव्हार किया है। अगर ये लोग अपने को भारत का निवासी मानते है तो इन्हे यह बात सारे भारतीयों से बिना किसी भेद भाव के रोटी-बेटी का सम्बन्ध जोड़ कर साबित करना चाहिय। https://www.facebook.com/atulya.bharat.165/posts/373008529530768?fref=nf

arye videshi manjhi jeetan jagran

2 thoughts on “बिहार के मुख्यमंत्री श्री जीतन राम मांझी जी ने कहा- अगड़ी जाति विदेशी और आर्यों के वंशज…ज़ी मीडिया ब्यूरो

  1. गौर से देखा जाये तो भारत एक राष्ट्र नहीं बल्कि कई राष्ट्रों का समूह है।
    यहाँ की हर एक जाती अपने आप में
    एक राष्ट्र है जो दूसरी सभी जातियों से
    दुश्मनी की हद तक संसाधनों पर अधिकार
    की लड़ाई लड़ती आ रही है।
    इस अराजक सामाजिक ढाचे का निर्माण कर मध्य एशियाई आर्य
    अल्पसंख्यक होने के बावजूद शीर्ष पर पहुँच गए
    और इसी “जाती” को जीवित
    रख कर ये मध्य एशियाई आज तक शीर्ष पर काबिज़
    है। जाती का निर्माण कर इन आर्यों ने आज तक
    अपना अस्तित्व भारतीय समाज में बचाए रखा। अगर
    बिहार के CM इन्हे विदेशी कहते है तो इसके लिय ये
    लोग खुद ही जिम्मेदार है। इन्होने आज तक अनार्यो के साथ विदेशियों की तरह ही व्यव्हार किया है। अगर ये लोग अपने
    को भारत का निवासी मानते है तो इन्हे यह बात सारे
    भारतीयों से बिना किसी भेद भाव के
    रोटी-बेटी का सम्बन्ध जोड़ कर साबित
    करना चाहिय।

  2. chattisgarh me ST mahilaon ke operation me barti gai laparwahi isi baat ka saboot hai. Kya aap maan sakte ho ki doctor ko standard procedure pata na ho, par uski soch dekho wo jan boojh kar gande vatavaran aur gande auzaar se ST mahilaon ko operation kiya , matlab uski nazar me ye log doosre darje ke insaan hai ya shyad janvar hai. Uske apne log to hai nahi jo wo daya kare….pata hahi hamare log ka samjhenge

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s