बौद्ध देश जापान के कोयासान विश्वविद्यालय परिसर में बाबासाहब डॉ आंबेडकर की प्रतिमा का अनावरण, धीरे धीरे बौद्ध देश समझने लगे हैं की असल बौद्ध कौन हैं और उनके चंदे पे पलने वाले बौद्ध संस्थाओं के कब्जेदार कौन हैं|…team SBMT


Dr Ambedkar Statue in JAPAN2Fadnavis unveils Dr Ambedkar statue at Japan varsity

जापान के कोयासान विश्वविद्यालय परिसर मै बाबासाहब के स्टेचू का अनावरण
~~~~~~~~|||||~~~~~~
विश्वरत्न डॉ बाबासाहब अम्बेडकर इनके पूर्णाकृति स्टेच्यू का आज जापान के वाकायामा प्रांत के कोयसान विश्वविद्यालय में  अनावरण किया गया, बाबासाहब के ब्रॉन्ज़ से बनी ये प्रतिमा महाराष्ट्र के रत्नागिरी के कुडाल मै बनाई गई है |

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस एवं वाकायामा प्रांत के गवर्नर शिनाबु निसाका इनके द्वारा इस प्रतिमा का लोकार्पण किया गया ..

जापान के कोयासान इस क्षेत्र मै जो कोयासान टेम्पल है, उसे 1200 साल पुरे हुए है, इस उपलक्ष मैं कोयासान विश्वविद्यालय द्वारा भारत और जापान में  सांस्कृतिक विरासत को साझा करनेका निर्णय किया गया..कोयासान विश्वविद्यालय की रिसर्च टीम ने भारत मैं बाबासाहब की धम्मक्रांति को सबसे श्रेष्ठ माना, जिसके बाद तत्कालिन महाराष्ट्र सरकार से संपर्क किया गया
जिसके तहत महाराष्ट्र सरकार के पर्यटन विभाग द्वारा बाबासाहब के स्टेच्यू को कोयासान मैं स्थापित करना और जापान द्वारा अजन्ता ऐलोरा केव्स का विकास ऐसा समझौता हुआ |

बाबासाहब द्वारा की गई धम्मक्रांति को कोयासान विश्वविद्यालय ने काफी अहम् माना इसलिए बोधिसत्व बाबासाहब अम्बेडकर की 125 वी जयंती के अवसर पर इस स्टेच्यु का निर्माण करनेका और लोकार्पण करनेका फैसला हुआ

यह समारोह मई मैं आयोजित किया गया था, लेकिन महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस इन्होंने ऐन वक़्त पर रद्द किया, उसके बाद आख़िरकार 10 सितम्बर को इसका अनावरण हुआ ~

यह प्रतिमा यह स्थापित करने का सिलसिला एवं प्रोग्राम का आयोजन करने मै डॉ अम्बेडकर इंटरनेशनल मिशन के डॉ सुशांत गोडघाटे की काफी सक्रिय भूमिका रही..इस समय महाराष्ट्र के उद्योगमंत्री सुभाष देसाई, आवाज़ इंडिया टीवी चैनल के संचालक अमन काम्बले, कोलकाता के बिमल क्रिष्णा दास, इंजीनियर विजय मेश्राम, पी एस खोब्रागड़े, हेमंत सुटे, कल्पना सरोज,जर्मनी से आये हुए सोहनलाल सांपला, लंदन से आये हुए रामलाल राही, सूरज खापर्डे, भंते प्रशिल,शिरिश् रामटेके आदि प्रमुख्तासे उपस्थित थे

कोयासान विश्वविद्यालय से तकरीबन 1500 बुद्ध विहार जुड़े हुए है, यह सारे विहार शिक्षा का केंद्र है, कोयासान का यह सारा खूबसूरत परिसर पहाड़ी पर स्थापित है..👌चलो बुद्ध की और.👌जय भीम नमो बुद्धाय.

http://indianexpress.com/article/cities/mumbai/fadnavis-unveils-ambedkar-statue-at-japan-varsity/

”Dr B R Ambedkar’s struggle and principles for human dignity, social equality and justice is universal and relevant even in the modern age,” said Chief Minister Devendra Fadnavis after unveiling Dr Babasaheb Ambedkar’s statue at Koyasan University in Japan.
Japanese officials led by Wakayama Governor Yoshinobu Nisaka and others sported the traditional Maharashtrain-style saffron “pheta” on the occasion.

Fadnavis said the Maharashtra government had planned an Ambedkar memorial on 12.5 acres of Indu Mills land in Mumbai. Recently, the state government also purchased the house in London where Ambedkar stayed as a student while studying in London School of Economics during 1921-22, which would be developed as an international study centre and museum on Ambedkar’s life and teachings.

Nisaka said Koyasan, the ancient seat of Buddhist learning in Japan, was the ideal place to establish the memorial for Dr Ambedkar.

Meanwhile, Fadnavis on Thursday also travelled in a bullet train in Tokyo and discussed the operations of the high-speed trains with officials. The Vice Minister for International Affairs of MLIT (Minister of Land, Infrastructure and Transport) Toshiya Morishige
discussed the operations of bullet trains with Fadnavis.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s