रोहित वेमुला के बारे में फैलाए जा रहे झूठ …पढ़िए वे 7 तथ्य…जो आपको भ्रम से निकालेंगे…


rohi rssss
रोहित वेमुला के बारे में फैलाए जा रहे झूठ के पांव काटने जरूरी हैं…
पढ़िए वे 7 तथ्य…जो आपको भ्रम से निकालेंगे…
रोहित वेमुला नहीं रहा, मगर आपके सवाल जारी हैं. आपके सवालों का जवाब इसलिए दे रहा हूं ताकि कुछ लोग भ्रमजाल में न फसें. बांकी जो लोग गुंडों को बचाने के लिए भ्रम फैला रहे हैं, उनका कोई इलाज नहीं…
……………………………
1. वह आतंकवाद का समर्थक नहीं, फांसी की सजा का विरोधी था. उसने याकूब मेनन का समर्थन नहीं किया था, उसका कहना था फांसी की सजा देना अमानवीय है.
2. हां, उसने बीफ पार्टी आयोजित की. क्योंकि बीफ खाना अपराध नहीं. गोहत्या पर प्रतिबंध है. बीफ का मतलब गाय नहीं होता. भैंस और बैल का मांस भी बीफ होता है और वृषभ और भैंसों की बलि हिंदू आज भी देते हैं. दलित इनका मांस आज भी खाते हैं.
3. उसने कैंपस में हिंसा नहीं की थी. एबीवीपी के नेता ने झूठ बोलकर उसे फंसाया था. बाद में उस नेता सुशील कुमार ने कुबूल किया कि वह अस्पताल का जो फोटो दिखा रहा था, वह दरअसल उस वक्त एपेंडिक्स का आपरेशन करवा रहा था.
4. उस पर कोई मुकदमा नहीं चल रहा है. एबीवीपी ने विवि पर सजा लागू करने के लिए मुकदमा किया था. जिसके दबाव में विवि को सजा लागू कराना पड़ा.
5. यह उसकी सदाशयता है कि वह सुसाइड नोट में किसी को जिम्मेदार नहीं बता रहा. वह एबीवीपी नेता सुशील कुमार जैसा नहीं है जो एपेंडिक्स के ऑपरेशन के फोटो के जरिये पांच दलित छात्रों का कैरियर बरबाद करने की साजिश रचे.
6. और हां कुछ लोग बता रहे हैं कि 2013 से पहले वह राष्ट्रवादी था, उसके बाद दिग्भ्रमित हो गया. तो उन्हें बताना चाहिये दलित उनके राष्ट्रवाद से क्यों दिग्भ्रमित हो जाते हैं. राष्ट्रवाद दलितों-आदिवासियों को समेट कर क्यों नहीं रख पाता. अपनापन देने में विफल क्यों हो रहा.
7. लोग यह भी कह रहे हैं कि रोहित दलित नहीं था, पिछड़ा था. तो, मेरी निगाह में तो वह अगड़ा था, क्योंकि जेनरल केटोगरी का टॉपर था, सोच में ज्यादातर अगड़ों से आगे था. संवेदनशीलता में भी. हां, तकनीकी तौर पर उसकी मां दलित थी और पिता पिछड़े. वह नेता दलितों का था…
…………………….
Pushya Mitra जी के यहाँ से Copy Paste

https://www.facebook.com/om.sudha.7/posts/912509515512714

for more: 

http://khabar.ndtv.com/news/india/in-rohith-vemulas-suicide-note-a-scratched-paragraph-raises-questions-1268697

http://www.bbc.com/hindi/india/2016/01/160122_rss_rohith_vemula_reacton_ra.shtml?ocid=socialflow_facebook

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s