हर पांच मिनट में दलित उत्पीड़न की खबर आती है,दिल दहला देने वाली तस्वीरें शेयर तक करना बुरा लगता है,आखिर कितना मीडिया कवरेज होगी कितनी बात होगी, सवर्णों के साथ साथ जिन मूल भारतीय (जिन्हें ब्राह्मणवादी मीडिया दलित कहता है) वो भी अब इन ख़बरों से बोर हो चुके हैं| मरे हुए को मरने की खबर भी कोई खबर है, खबर तो वो होती है जिसमें अपने सम्मान के लिए अंतिम सांस तक संगर्ष किया| मूल हेडिंग:-दलित अत्याचार की ख़बरों से बोर हो चुके हैं?..BBC… ज़ुबैर अहमद बीबीसी संवाददाता, डांगावास से


nagaur rajasthan dalitदलित अत्याचार की ख़बरों से बोर हो चुके हैं?

http://www.bbc.com/hindi/india/2015/06/150607_part_2_rajasthan_dalit_jat_clash_rns?SThisFB

150607172407_dangawas_rajasthan_dalit_jat_624x351_bbcimages (1) images (1)

 

http://www.bbc.com/hindi/india/2015/10/151021_ten_questions_rss_ps

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s