ग्वालियर में जेएनयू के प्रोफेसर विवेक कुमार की सभा पर कट्टरपंथियों का हमला,जेएनयू के प्रोफेसर विवेक कुमार जो उस समय मंच पर मौजूद थे फायरिंग में बाल-बाल बच गए।…National Dastak


prof vivek kumarग्वालियर में जेएनयू के प्रोफेसर विवेक कुमार की सभा पर हमला…2016-02-22

ग्वालियर। जेएनयू के प्रोफेसर विवेक कुमार पर ग्वालियर में जानलेवा हमला हुआ। रविवार को अंबेडकर विचार मंच के कार्यक्रम में विवेक कुमार शिरकत कर रहे थे। इसी दौरान बीजेपी युवा मोर्चे के सदस्यों ने हमला कर दिया और फायरिंग की। जेएनयू के प्रोफेसर विवेक कुमार जो उस समय मंच पर मौजूद थे फायरिंग में बाल-बाल बच गए।

घटना रविवार की है जब शाम के करीब चार बजे नगर निगम के बाल भवन सभागार में अंबेडकर फोरम का कार्यक्रम चल रहा था। उसी समय बीजेपी युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने हमला कर दिया और प्रोफेसर विवेक कुमार को बोलने से रोकने की कोशिश करने लगे। करीब 4 घंटे तक चले हंगामे में बाहर खड़ी गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई और फायरिंग भी हुई।

उपद्रवियों के खिलाफ केस दर्ज

बीजेपी युवा मोर्चा ने सेमिनार के मुख्य वक्ता JNU के प्रोफेसर विवेक कुमार के खिलाफ नारे लगाए और नफरत फैलाने का आरोप लगाया। उनकी पिटाई की भी कोशिश की गई। अंबेडकर विचार मंच के नेता दिनेश मौर्या की शिकायत के आधार पर पुलिस ने बीजेपी युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष विवेक शर्मा और 100 अन्य लोगों के खिलाफ SC-ST एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि पूरे मामले की जांच चल रही है। ऑडिटोरियम में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी निकाली जा रही है। उसके आधार पर दोषियों की पहचान की जाएगी और जो भी दोषी होगा उसे बख्शा नहीं जाएगा।

दरअसल JNU पिछले दिनों देश विरोधी नारों के आरोपों की वजह से चर्चा में रहा है मीडिया में आये एक विडियो जिसकी सत्यता की जांच होनी अभी बाकी है, की वजह से काफी हंगामा हुआ और JNU छात्र संघ के अध्यक्ष को भी गिरफ्तार किया गया है।

मीडिया और सोशल साइट्स पर हमले की निंदा

जेएनयू प्रोफेसर विवेक कुमार पर हुए हमले की खबर सोशल साइट्स पर ट्रेंड कर रही है। देश के नामी समाज वैज्ञानिकों ने इस हमले की निंदा की है। पत्रकारों ने भी इस घटना को बोलने की आजादी पर हमला बताया है। इंडिया टूडे (हिंदी) के पूर्व कार्यकारी संपादक दिलीप मंडल ने फेसबुक पर इस घटना की निंदा की है। दिलीप मंडल ने इस हमले के लिए आरएसएस और उसकी कट्टरता को जिम्मेदार ठहराया है। वहीं दलित दस्तक के संपादक ने भी प्रोफेसर विवेक कुमार पर हुए हमले की निंदा करते हुए कहा है कि उनपर हुआ ये हमला लोकतंत्र, संविधान और अंबेडकरवाद पर हमला है। प्रोफेसर विवेक कुमार दलित दस्तक संपादक मंडल के सदस्य भी हैं।

http://www.nationaldastak.com/news-view/view/attack-on-jnu-prof-vivek-kumar-in-gwalior/

==============================================================================================

यदि आपको यह आलेख पसंद आ रहा है और आप चाहते है कि यह अधिक से अधिक लोगों तक जाए, तो इसके लिए आप  निम्न लिंक

https://samaybuddha.wordpress.com/2016/02/21/prof-vivek-kumar-assault-by-hardliners-in-gwalior/ को कॉपी कर पेस्ट करें.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s