बौद्ध बनने के लिए मुझे क्या करना होगा …SamayBuddha


बौद्ध बनने के लिए पहले कुछ बुनियादी ज्ञान प्राप्त करो, निम्न काम करो :

1.बौद्ध धम्म को आसान हिंदी में समझने के लिए youtube चैनल HINDIBUDDHISM सब्स्क्राइब/ज्वाइन करे व अपने सभी सामाजिक भाइयों को भी ज्वाइन करवाएं , लिंक इस प्रकार है : https://www.youtube.com/c/HINDIBUDDHISM कृपया सब्स्क्राइब/ज्वाइन करना न भूलें

https://clyp.it/sb2tekuk is audio ko poora suno aor samjho

2. डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर ने उल्लेख किया है कि उनकी बौद्ध धर्म की सोच जानने के लिए उनकी तीन किताबें पढनी आवश्यक है। प्रमुख पुस्तक
(१) भगवान बुद्ध और उनका धम्म, और अन्य दो पुस्तकें हैं:
(२) बुद्ध और कार्ल मार्क्स; और
(३) भारत में क्रांति और प्रतिक्रांति।

3. किताबें खरीदने का लिंक https://samaybuddha.wordpress.com/baud-dhamm-aur-ambedkarvaadi-kitabe-khareedo-nikhil-sablaniya/

बौद्ध धम्म साहित्य में एक तरफ तो लिखा है फलां बात ऐसे है वहीँ कहीं दूसरी तरफ लिखा है फलां बात ऐसे नहीं ऐसे है|आज बौद्ध धम्म की तरफ अग्रसर लोगों की सबसे बड़ी परेशानी ये है की वो किसको सही माने किसको गलत,किसको अपनाएं किसको छोड़ें|बौद्ध धम्म के पतन के लिए न केवल दमन से बल्कि विरोधियों ने भिक्षु बन कर बौद्ध साहित्य में बहुत ज्यादा मिलावट कर दी थी| वही मिलावट का साहित्य आज मार्किट में उपलब्ध है जिसका सार यही बनता है जी जीवन नीरस है कुछ मत करो या ये बनता है की भगवान् बुद्धा एक इश्वरिये शक्ति थे उनकी पूजा करो और कृपा लाभ मिलेगा |असल में बौद्ध धम्म मनुवादी षडियन्त्र और अन्याय द्वारा व्याप्त दुःख को मिटने वाली क्रांति है ये इश्वरिये सिद्धांत को नकारता है|इस सबसे बचने का यही इलाज है की आप अन्यत्र किसी धम्म साहित्य ज्यादा ध्यान मत दो| युगपुरुष महाज्ञानी बहुजन मसीहा एव आधुनिक भारत के उत्क्रिस्ट शिल्पकार बाबा साहेब डॉ आंबेडकर की निम्न तीन पुस्तकों को शुरुआती ज्ञान से लेकर अंतिम रेफरेंस तक मनो :
१. भगवन बुद्धा और उनका धम्म
२. भगवन बुद्धा और कार्ल मार्क्स
३. प्राचीन भारत में क्रांति और प्रतिक्रांति
ये बात स्वेव बाबा साहब की है वे खुद बौध धम्म को सही मायेने में समझाना चाहते थे न की आम धर्म की तरह| इन तीनो पुस्तकों से आगे जाना असल में अपने को धम्म विरोधी मिलावट में फ़साना होगा|इन तीन पुस्तकों की रचना डॉ आंबेडकर ने इसी भटकाव को रोकने के लिए किया है और ये बात उन्होंने खुद कही है|हमें आखिर कहीं किसी बिन्दु पर तो एक मत होना ही होगा वरना विरोधी अपनी चाल चल जायेंगे और हम सही गलत की बहस ही करते रह जायेंगे,अब फैसला आपके हाथ में है|”

4.जब भी जनसंख्या की गिनती हो तब आप सरकार की उस जनसंख्या लिस्ट में खुद को बौद्ध के रूप में दर्ज कराएं

5. डॉक्टर अंबेडकर द्वारा दिलाई गई 22 प्रतिज्ञाएं के हिसाब से अपना जीवन चलाएं

बस इतना करने से आप बौद्ध हो जाएंगे

 

2 thoughts on “बौद्ध बनने के लिए मुझे क्या करना होगा …SamayBuddha

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s