बाबा साहब डॉ आंबेडकर के मशहूर कथन जो हम सब का रोजमर्राह की जिंदगी में मार्गदर्शन करती है

स्वाभिमानी लोग ही संघर्ष की परिभाषा समझते हैं,जिनका स्वाभिमान मरा होता है वह गुलाम होते हैं I
– बाबा साहब डॉक्टर अंबेडकर
मेरी जय जय कार करने से अच्छा है, मेरे बताए हुए मार्ग पर चलें I
-बाबा साहब डॉ आंबेडकर
राजनीति में हिस्सा ना लेने का सबसे बड़ा दंड यह है कि अयोग्य व्यक्ति आप पर शासन करने लगते हैं I
-बाबा साहब डॉक्टर अंबेडकर
जो कौम अपना इतिहास भूल जाती है,वह कौम कभी अपने इतिहास का निर्माण नहीं कर सकती I
-बाबा साहब डॉक्टर अंबेडकर
शिक्षा वह शेरनी का दूध है जो पिएगा वह दहाड़ेगा I
– बाबा साहब डॉक्टर अंबेडकर

हमारा यह आंदोलन तब तक सफलता की चोटी पर नहीं पहुंच सकता जब तक हमारी महिलाएं भी इसमें सक्रिय रूप से हिस्सा नहीं लेंगी
– बाबा साहब डॉ आंबेडकर

जिस समाज में हमारा जन्म हुआ है,उस समाज का उद्धार करना हमारा मुख्य कर्तव्य है I
– बाबा साहब डॉक्टर अंबेडकर

मैं उसे ही शिक्षित मानता हूं,जो अपने दुश्मन को पहचानता है I
– बाबा साहब डॉक्टर अंबेडकर
राजनीतिक सत्ता के बिना हमारे लोगों को उद्धार संभव नहीं
– बाबा साहब डॉक्टर अंबेडकर
आपका उत्थान समाज के उत्थान में ही निहित है I
– बाबा साहब डॉक्टर अंबेडकर

 

जिस घर में महिला शिक्षित हो जाती है उस घर में सारा परिवार शिक्षित हो जाता है I
– राष्ट्रपिता ज्योतिबा फुले

भारत के भाग्य विधाता बाबा साहब डॉ अम्बेडकर की जयंती की हार्दिक शुभकामनायें , डॉ अम्बेडकर जयंती मानाने में आज महिलाएं भी पीछे नहीं क्योंकि वो समझ गयीं हैं की उनकी दशा कानून द्वारा बाबा साहब ने सुधारी किसी देवता ने नहीं ,देखिये महिलाओं का उत्साह